कंसीव करने के लिए कैसी होनी चाहिए आपकी डाइट? जानें क्या कहते है इनफर्टिलिटी एक्सपर्ट


Advt
स्वस्थ आहार  एक स्वस्थ जीवन शैली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता  है।  लेकिन विशेष रूप से महत्वपूर्ण है, यदि आप गर्भवती हैं या कंसीव करने की योजना बना रही हैं। स्वस्थ भोजन आपको अच्छा महसूस कराता है।  और आपके बच्चे को गर्भ में आवश्यक पोषक तत्व देता है।

कंसीव करने के लिए पहले अच्छा पोषण की बहुत ज्यादा जरुरत होती है। माता-पिता के आहार और जीवन शैली दोनों विकल्पों का गर्भधारण से पहले उनके बच्चों के विकास और भविष्य के स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है। गर्भधारण पर आधारित आंकड़ो और सरेवे से पता चलता है। कि  जो महिलाएं प्रेगनेंसी प्लानिंस से पहले अच्छा पोषण लेती हैं । तो जीवन भर के स्वास्थ्य को सकारात्मक  परिणाम मिलते है। 

एक स्वस्थ संतुलित आहार लगभग सभी विटामिन, खनिज और पोषक तत्व प्रेगनेंसी प्लान कर रही महिलाओं के लिए बहुत ही आवश्यक होता है। कुछ महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज हैं।  जैसे - फोलिक एसिड, अन्य बी विटामिन, विटामिन डी, आयोडीन, आयरन और ओमेगा -3 भ्रूण के मस्तिष्क, हड्डियों और आंखों के विकास का समर्थन करने के लिए जरुरी होते है। 

प्रेगनेंसी प्लान करने से पहले डाइट चार्ट कैसा होना चाहिए?

सब्जियां और फलियां
रोटी और अनाज
दूध, दही और पनीर
फल और ड्राई फ्रूट्स


कंसीव करने में फल और सब्जियाँ कैसे करती है मदद - फल और सब्जियां खाएं।  क्योंकि ये विटामिन और खनिज, साथ ही फाइबर प्रदान करते हैं, जो पाचन में मदद करता है और कब्ज को रोकता है। एक दिन में कई तरह के फल और सब्जियां खाएं - ये ताजा हो तो अच्छी बात है । परंतु जमे हुए, डिब्बाबंद, सूखे या जूस हो सकते हैं। इन्हें हमेशा सावधानी से धोएं और इसके बाद सीमित ही खाएं। सब्जियों को थोड़े से पानी में हल्का पकाएं, या उन्हें कच्चा लेकिन अच्छी तरह धोकर खाएं, ताकि उनमें मौजूद पोषक तत्वों का लाभ मिल सके।

स्टार्चयुक्त खाद्य पदार्थ (कार्बोहाइड्रेट) - स्टार्चयुक्त खाद्य पदार्थ विटामिन और फाइबर का एक महत्वपूर्ण स्रोत हैं । जो बहुत अधिक कैलोरी के स्त्रोत है। इनमें अनाज, ब्राउन राइस, मक्का, बाजरा, जई, शकरकंद, शामिल हैं। ये खाद्य पदार्थ हर भोजन का मुख्य हिस्सा होना चाहिए। जब भी संभव हो संसाधित (सफेद) किस्मों के बजाय साबुत भोजन खाएं।


फोलिक एसिड - प्रसव उम्र की सभी महिलाओं को प्रतिदिन 400 माइक्रोग्राम (एमसीजी) फोलिक एसिड की आवश्यकता होती है। गर्भवती महिलाओं को रोजाना 600 एमसीजी फोलिक एसिड की जरूरत होती है। 

फोलिक एसिड कुछ हरी पत्तेदार सब्जियों, नट्स, बीन्स, खट्टे फलों, फोर्टिफाइड ब्रेकफास्ट सीरियल्स और कुछ विटामिन सप्लीमेंट्स में पाया जाने वाला पोषक तत्व है। 

यह मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी (जिसे न्यूरल ट्यूब दोष कहा जाता है) के जन्म दोषों के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। सबसे आम न्यूरल ट्यूब दोष स्पाइना बिफिडा है, जिसमें कशेरुक ठीक से एक साथ नहीं जुड़ते हैं, जिससे रीढ़ की हड्डी खुल जाती है। इससे लकवा, असंयम, और कभी-कभी, बौद्धिक अक्षमता की अलग-अलग डिग्री हो सकती है।

आयरन - 18 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को रोजाना 18 मिलीग्राम (मिलीग्राम) आयरन की जरूरत होती है। गर्भावस्था के दौरान आयरन की जरूरत बढ़ जाती है। आयरन के भंडार का निर्माण गर्भावस्था के दौरान विकासशील बच्चे की जरूरतों के लिए माँ के शरीर को तैयार करने में मदद करता है।


प्रोटीन -  प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ प्रजनन अंगो को सक्रीय करने में अच्छी भूूमिका निभाते है। बीन्स, फलियांऔर नट्स शामिल हैं। रोजाना कुछ प्रोटीन खाएं। 

डेयरी प्रोडक्ट -  दूध, पनीर और दही जैसे डेयरी खाद्य पदार्थ महत्वपूर्ण हैं।  क्योंकि इनमें कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व होते हैं।  जिनकी आपके प्रजनन स्वास्थ्य को जरूरत होती है। जहां भी संभव हो कम वसा वाली किस्में चुनें। 

स्नैक्स में क्या खाना चाहिए - 
यदि आपको दोपाहर के भोजन के बाद भूख लगती है, तो ऐसे स्नैक्स न खाएं।  जिनमें वसा या चीनी अधिक हो, जैसे कि मिठाई, बिस्कुट, क्रिस्प या चॉकलेट। इसके बजाय, निम्नलिखित पौष्टिक स्नैक्स में से चुनें:

कसा हुआ पनीर और सलाद से भरा सैंडविच या सलाद सब्जियां, जैसे गाजर, या ककड़ी। 
ब्रेड या वेजिटेबल स्टिक के साथ लो-फैट दही 
सब्जी और बीन सूप
दलिया, दूध के साथ
मिल्की ड्रिंक या बिना मीठे फलों का रस
ताजे फल




Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें