बीएसडीयू ने फेसबुक लाइव के जरिए खत्म कीं कोरोना से जुड़ी शंकाएं

जयपुर: कोरोना को लेकर कई तरह की भ्रांतियां और युवाओं के मन में चल रही शंकाओं को फेसबुक लाइव के जरिए इएसआइसी मेडीकल काॅलेज, फरीदाबाद की डॉक्टर गिनी गरिमा ने दूर किया। भारतीय स्किल डवलपमेंट यूनिवर्सिटी (बीएसडीयू)  की ओर से आयोजित इस फेसबुक लाइव सेशन का आयोजन किया गया। ईएसआईसी दिल्ली मेडिकल कॉलेज की प्रोफेसर डॉ गिनी ने बताया कि उनके यहां जो हॉस्पिटल है वह पूरा कोरोना डेडीकेटेड हॉस्पिटल यकीन मानिए 90ः से ज्यादा मरीज ठीक होकर घर भी जा रहे हैं। इसलिए इससे डरने या भयभीत होने की जरूरत नहीं है, लेकिन जागरूकता बेहद जरूरी है। क्योंकि संक्रमण की यह बीमारी किसी को भी हो सकती है इसलिए आयुष मंत्रालय की ओर से दिए गए गाइडलाइन दिशा निर्देशों का पालन जरूर करें। डॉ गिनी का कहना था कि भीड़भाड़ वाले इलाकों में ना जाएं, लगातार हाथ धोएं और सैनिटाइजर का उपयोग करें। कम से कम 6 मीटर की दूरी संभव हो तो जरूर रखें।
_x000D_
_x000D_ उन्होंने कहा कि आप देख रहे होंगे कि इस तरह की खबरें भी आ रही हैं कि 90% से ज्यादा लोगों ने इस पर अपनी इम्यूनिटी और बिना घबराए विजय पा ली है। इसलिए हम सब भी कमजोर ना बने खुद को मजबूत बनाएं। लॉकडाउन के बारे में यह बिल्कुल भी ना समझे कि हमें घर में बंद कर दिया गया है, बल्कि इसे एक अवसर के तौर पर लें, जिसमें हमें हमारे परिवार के साथ क्वॉलिटी टाइम बिताने का मौका मिला है। साथ ही अपनी ग्रोथ करने का भी एक समय दिया गया है। हमारी प्रकृति भी स्वच्छ हो रही है। मेडिटेशन, योगा को अपने रुटीन का हिस्सा बनाएं। अपनी हॉबीज अपनी क्रिएटिविटी को इंप्रूव करने की कोशिश करें।
_x000D_
_x000D_ डाॅ. सुरजीत सिंह पाबला ने कहा कि देश और दुनिया अभी कोरोना जेसी बिमारी से लड रहा है इसलिए इससे डरने या भयभीत होने की जरूरत नहीं है, लेकिन जागरूकता बेहद जरूरी है और बीएसडीयू सर्तक है। अचिन्त्य चैधरी, कुलपति, बीएसडीयू आगे कहते हैं, ष्रोकथाम कोरोनावायरस के प्रसार को सीमित करने में महत्वपूर्ण है, कोई और हमें नहीं बचाएगा, लेकिन हम खुद को। हमें स्वयं अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सावधानी से चलना चाहिए।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें