नम आँखों से हुई पूर्व महारावल की अंतिम विदाई, दोनों बेटों ने दी मुखाग्नि

सम्मान में जैसलमेर शहर बंद रहा

जैसलमेर के  पूर्व महारावल बृजराजसिंह पिछले कुछ दिनों से लीवर की बीमारी से ग्रसित थे जिसके चलते सोमवार को दिल्ली के मेदांता अस्पताल में  इलाज के दौरान उनका देहांत हो गया।
महारावल के देहांत की सूचना सोशल मीडिया के जरिये कुछ ही पल मे जैसलमेर वासियों व उनके शुभचिंतको तक पहुँच गई जिसके बाद जैसलमेर में शोक की लहर व्याप्त हो गई वही सोशल मीडिया का बाजार भी गममय रहा। मंगलवार अलसुबह महारावल के पार्थिव देह को दिल्ली से जैसलमेर लाया गया जहाँ उनके शुभचिंतको का सैलाब उमड़ पड़ा।

वहां उपस्थित हर एक आँख नम नजर आई। जैसलमेर के मन्दिर पैलेस जो महारावल का निवास स्थान है के आगे हजारो की संख्या में उनके शुभचिंतको का तांता लगा रहा वही, वहीं जैसलमेर विधायक रूपाराम , जिला प्रमुख प्रताप सिंह,जिला कलेक्टर आशीष मोदी, पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अजय सिंह ,के साथ जिले के अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि  मौजूद रहे व राजपरिवार की परम्परानुसार पूर्व महारावल की वैकुंठ यात्रा मन्दिर पैलेस,हनुमान चौराहा से होती हुई बड़ाबाग पहुँची जहां महारावल का अंतिम संस्कार हुआ।

अंतिम यात्रा में हजारो की सख्या में जन सैलाब उमड़ पड़ा व पूर्व महारावल के परिवार के साथ ही हर एक जैसलमेरवासी कि आँखों मे आँसुओ की झड़ी नजर आई। इसी के साथ जैसलमेर महारावल के सम्मान में जैसलमेर भी बंद दिखा।जिले में शोक के इस माहौल से अंदेशा लगाया जा सकता है कि सीमावर्ती जिले जैसलमेर के लोगो के दिलों में राजतन्त्र के प्रति आज भी कितनी श्रद्धा व निष्ठा है।

सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें