कोरोना वायरस के बचाव को लेकर आगे आने लगे भामाशाह, गांवों में भी शुरू हुआ सेनेटाइजेशन

जालोर: कोरोना वायरस के चलते पिछले कई दिनों से चल रहे लॉक डाउन में हजारों की तादाद में प्रवासियों के घर आने के बाद शहरों में प्रशासन द्वारा सेनेटाइजेशन का कार्य शुरु करवा दिया, लेकिन अभी तक गांवों में यह कार्य शूरु नहीं हो पाया। ऐसे में अब सेनेटाइजेशन के लिए भामाशाह आगे आने लगे है। चितलवाना उपखंड के डूंगरी गांव में भामाशाह इंदिरा बिश्नोई द्वारा सेनेटाइजेशन का कार्य आज शुरू करवाया गया है। डूंगरी के राजकीय अस्पताल से शुरू करते हुए गांव की सभी गलियों व मुख्य बाजार में सेनेटाइजेशन किया गया।

_x000D_ _x000D_

_x000D_ _x000D_

इस दौरान बिश्नोई ने कहा कि सरकार द्वारा लोगों को राहत देने की कोशिश की जा रही है, लेकिन यह बड़ी महामारी होने के कारण मेने अपने स्तर पर पूरे गांव को सेनेटाइजेशन करवाने का विचार आया है। जिसके बाद प्रशासन व कोरोना ग्राम प्रभारियों की मदद से पूरे गांव में सेनेटाइजेशन किया गया। वहीं आने वाले दिनों में भी यह कार्य किया जाएगा। इस दौरान पूर्व एबीईईओ पांचाराम आंजना, लक्ष्मण सिंह जाणी, भामाशाह खेताराम खींचड़, रमेश खीचड़, कोरोना ग्राम प्रभारी तुलसाराम सियाग, भानाराम जाणी, खियाराम सारण, कोजाराम बिश्नोई, एमएन2 ठाकरा राम पुनिया, गणपत हंजावत सहित अन्य मौजूद रहे।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें