हौसलों की उड़ान: किसान परिवार से निकलकर सब इस्पेक्टर बनी शोभा धेड़ू

केरु/जोधपुर। किसान परिवार से निकलकर सब इस्पेक्टर बनी शोभा पुत्री शंकरलाल धेड़ू गांव राजवा किसान परिवार से संबंध रखने वाले शंकरलाल धेड़ू की मेहनत और लगन से बेटी को पढ़ा कर एक अच्छा साहसिक प्रयास किया हैं। उनका कहना है कि मैंने कभी सोचा भी ना था कि मेरी बेटी भी सब इंस्पेक्टर बनेगी। बेटी ने अपने जुनून से सपनों को मंजिल में बदल डाला।

शोभा ने जबरदस्त तमाचा जड़ा है उन सभ्य समाज का झूठा दंभ भरने वाले उन तथाकथित रूढ़िवादी विचारधारा वालों के। सिस्टम का शिकार हुई इस बेटी की भविष्य की उड़ान को भरने से पहले ही वे लोग उसके हौसले के पंख को कतरने की तैयारी में लगे हुए थे लेकिन शोभा को पता था उसकी असली मंजिल बहुत दूर है। आज शोभा ने उन सभी को गलत साबित कर दिए और कल तक शोभा और उसके परिवार को गलत ठहरा रहे थे । रूढ़िवादी सोच की शिकार समाज की ऐसी सैकड़ों बच्चियों के लिए शोभा एक नई आशा की किरण बनकर उभरी है। शोभा के पिता शंकरलाल धेड़ू और भाई भंवर लाल ,सुरेंद्र ने न जाने कितने ताने सुने लेकिन आज शोभा के सब इंस्पेक्टर बनने पर परिवार गांव और आसपास के गांव में भी खुशी की लहर दौड़ पड़ी।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें