करवाचौथ विशेष: रोहिणी नक्षत्र में निकलेगा चांद, बन रहा ये संयोग


Advt

आगरा : सुहागिनों के पर्व करवाचौथ पर इस बार करवाचौथ पर विशेष योग बन रहे हैं। ज्योतिषाचार्य के अनुसार इस बार चांद रोहिणी नक्षत्र में निकलेगा। यह संयोग करवाचौथ के पूजन को और अधिक मंगलकारी बना रहा है, जो सुहागिनों के लिए विशेष लाभकारी है।

दुख नष्ट होंगे और दरिद्रता दूर होगी : आशिमा शर्मा
ज्योतिषाचार्य आशिमा शमा की माने तो रोहिणी नक्षत्र का होना अपने आप में अद्भुत संयोग है। मान्यताओं के अनुसार यह योग चंद्रमा की 27 पत्नियों में सबसे प्रिय पत्नी रोहिणी के साथ होने से बन रहा है। सुहागिनों के लिए यह बेहद फलदायी है। इस योग से दुख नष्ट होंगे और दरिद्रता दूर होगी। 24 अक्तूबर को रविवार के दिन सुबह 03:01 मिनट पर चतुर्थी तिथि प्रारंभ होगी और 25 अक्तूबर को प्रात: 05:43 मिनट तक रहेगी। यह व्रत 24 अक्तूबर को रविवार के दिन रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि इस बार रोहिणी नक्षत्र का अद्भुत संयोग पति-पत्नी के बीच प्रेम बढ़ाएगा।

करवाचौथ और संकष्टी चतुर्थी
ज्योतिषाचार्य आशिमा कहती है कि चतुर्थी एक दिन पड़ती है। संकष्टी चतुर्थी पर भगवान गणेश की पूजा की जाती है। वहीं, करवाचौथ के दिन विवाहित महिलाएं पति की लंबी आयु की कामना के लिए निर्जला व्रत रखकर भगवान शिव, पार्वती और कार्तिकेय की पूजा करतीं हैं। संध्या काल में चांद देखने के बाद अर्घ्य देकर व्रती अपना व्रत तोड़ती हैं।


Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें