कविता: कोरोना भगाओ, देश बचाओ

ना जाने क्यूं आया आज ऐसा दौर ।
हर तरफ केवल कोरोना का हो रहा शोर ।।

यें घातक महामारी है ले जाएगी मौत की ओर।
करो समर्थन सरकार का, वरना छूट जाएगी जीवन की डोर।।

जनता कर्फ्यू के समर्थक बनाने पर दिया जोर।
शाम 5 बजे जब हुआ करतल ध्वनि का शोर।।

बिताओ परिवार के साथ समय,  बढ़ो खुश और स्वस्थ रहने की ओर ।
ऐसा मौका फिर ना मिलेगा, फिर मत करना पछताने का शोर।।

कोरोना भगाओ, देश बचाओ।

-- करन लुधानी

Sangri Times News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें.

Related Articles