खेजड़ली बलिदानियों को विश्व में पहचान के साथ बलिदानी स्थल वैश्विक धरोहर में शामिल करवाने को लेकर मिशन 363 के तहत पंजाब व हरियाणा दौरा

पर्यावरण प्रेमी 83 वर्षीय ट्री मैन राणाराम बिश्नोई उर्फ रणजीताराम आज भी पेड़ पौधे व पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य कर रहे हैं खेजड़ली में 363 शहीदों को विश्व पटल पर पहचान के साथ व शहीदी स्थल को वैश्विक धरोरह घोषित करवाने की मुहिम को लेकर आदमपुर, फतेहाबाद, हिसार, डबवाली,महेराणा धोरा ,अमृतादेवी बिश्नोई समारक पंजाब आदि जगह पर कंकेडी,खेजड़ी, जामुन आदि पौधों का पौधरोपण किया गया l वहा के स्थानीय लोगो,सामाजिक संगठनों आदि द्वारा राणाराम को समानित के साथ स्मृति चिन्ह भेंट किये गए l
राणाराम के पुत्र विशेक विश्नोई ने बताया कि अब इस मुहिम को लोगो को देश विदेश से जोड़ने के लिए ग्लोबल ग्रीन 363 ऑर्गेनाइजेशन नाम की संस्था बनाई है अब संस्था के माध्यम में देश विदेश में खेजड़ली बलिदानियों का प्रचार प्रसार करने के साथ बलिदानी स्थल को वैश्विक धरोरह में शामिल करवाने के लिए जन समर्थन अभियान चला रहे हैं साथ ही खेजड़ली से जोधपुर तक सड़क के दोनो साइड पेड़ पौधे लगाए जाएंगे l
संस्था के जोधपुर उपाध्यक्ष बालाराम बेनिवाल हेमनगर ने बताया कि राणाराम बिश्नोई को बिश्नोई सभा हिसार, मंडी आदमपुर ,डबवाली ,महेराणा धोरा,गुरु जम्भेश्वर कर्मचारी कल्याण समिति, बिश्नोई युवा संगठन, जीव रक्षा सभा, बिश्नोई सेवक दल आदि संगठनों ने सम्मानित किया। हिसार बिश्नोई सभा के प्रधान जगदीश कड़वासरा, डबवाली बिश्नोई सभा के सचिव इंदरजीत धारणिया, जीव रक्षा के क्रष्ण राहड़ आदमपुर सरपंच अतर सिंह ज्याणी, एडवोकेट मुकेश धायल, रिटायर्ड प्रिंसिपल तुलसीराम,उद्योगपति दिलीपसिंह सारण, पर्यावरण प्रेमी ASI तेलुराम आदि स्थानीय लोगो द्वारा भी माल्या अर्पण किया गया l
पंजाब व हरियाणा दौरे के सूत्रदार रहे पृथ्वी सिंह गिला ZMEO से.नि. ने बताया कि वो राणाराम को इंडिया टुडे के कवर पेज पर आने के बाद से ही वो कवर पेज की प्रतियां करा कर लोगो में बांटने के साथ पर्यावरण के प्रति लोगो को जागरूक कर रहे हैं l


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें