10 अक्टूबर विश्व डाक दिवस पर बेरोज़गारी व किसान विरोधी बिल को लेकर प्रधानमंत्री को भेजे 5000 से अधिक पोस्टकार्ड

विश्व डाक दिवस के उपलक्ष में एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष अभिषेक चौधरी व पाली ज़िला प्रभारी राहुल भाकर के निर्देशानुसर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व एनएसयूआई प्रदेश सचिव  गणपत पटेल के नेतृत्व में छात्रों व एनएसयूआई कार्यकर्ताओं  द्वारा 5000 पोस्ट कार्ड  लिखे गए । जिसमें देशभर में बढ़ती बेरोजगारी, किसान विरोधी बिल,निजीकरण व नई शिक्षा नीति पर आम विद्यार्थियों को होने वाली पीड़ा को बताया ।प्रदेश प्रभारी गुरजोत सांधू ने बताया की पूरे राजस्थान से 1लाख पोस्ट कार्ड प्रधानमंत्री को भेजें जाएँगे ।

एनएसयूआई प्रदेश सचिव गणपत पटेल के नेतृत्व में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने किसान विरोधी अध्यादेश को किसानो के लिए काला क़ानून बताया व नए किसान एक्ट का प्रधानमंत्री को पत्र भेजकर विरोध किया ।विश्व डाक दिवस 5000 पोस्ट कार्ड लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे । एनएसयूआई प्रदेश सचिव गणपत पटेल ने बताया की केन्द्र सरकार द्वारा संसद में देश के किसानो एवं कृषि व्यापार से सम्बंधित तीन किसान विरोधी अध्यादेश किसानो के लिए काला क़ानून है । इससे चंद लोगों को जो कि पूंजीपति है,उनको फ़ायदा पहुँचाने के लिए लाया गया है । गणपत पटेल ने कहा कि  युवाओं के रोजगार को आम चुनावों में प्रमुख मुद्दा बनाने वाली भाजपा सरकार चाहे लाख दावे करे लेकिन रोजगार के मुद्दे पर वह पुरी तरह असफल और बेबस नजर आ रही है। भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव के दौरान हर वर्ष दो करोड से अधिक रोजगार देने का वादा किया था जबकि मोदी सरकार आने के बाद देश में रोजगार का हाल और ज्यादा खराब हुआ है। युवाओं को दो करोड रोजगार मिलने की बात तो दूर देश में आर्थिक मंदी आने से लोगो की अपनी नौकरियों से हाथ धोना पड रहा है।

गणपत पटेल ने कहा कि देश में रोजगार का संकट दिन प्रतिदिन गहराता जा रहा है, वर्तमान देश में बेरोजगारी दर 20 फिसदी से भी अधिक है।गणपत पटेल ने कहा की नई शिक्षा नीति में निजीकरण को बढ़ावा मिलेगा जिससे विधालय व महाविद्यालय की फ़ीस में बढ़ोतरी कर दी जाएगी जिससे आम छात्र-छात्राओं के लिए निजीकरण होने ने पढ़ाई करना कठिन हो जाएगा ।गणपत पटेल ने कहा की वर्तमान समय में देशभर में जो बलात्कार की घटनाएँ हो रही है उसपर अंकुश लगाने के लिए कठोर क़ानून बनाना चाहिए ।ऐसे मामलों में दोषियों को फाँसी की सजा  दी जानी चाहिए ।

इस अवसर पर डूंगरराम पटेल, प्रकाश पटेल,,दीपक रामावत,विक्रम सिंह, राजूराम,मुकेश शेखावत,प्रमोद,राजेन्द्र सिंह, लक्ष्मण पटेल, विकास,संजय,गोपाल,रवीन्द्र,सतपाल, प्रवीण,अमराराम,घनश्याम,राकेश,सुरेन्द्र,आदि छात्र व एनएसयूआई कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।

सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें