जिनोम सीक्वेंसिंग में विभाग ने किए जिलों के लिए लक्ष्य निर्धारित


Advt

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों में नए वेरिएंट की जांच के लिए की जा रही जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए विभाग ने सभी जिलों को सैंपल के लक्ष्य निर्धारित किए हैं। 

चिकित्सा विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री वैभव गालरिया ने बताया कि जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए प्रदेश के सभी जिलों को 20 सैंपल, संभागीय मुख्यालय के जिलों को 30 और जयपुर को 50 सैंपल प्रति सप्ताह जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजने के निर्देश दिए हैं।

प्रमुख शासन सचिव ने बताया कि सोमवार को जोधपुर, मंगलवार को बीकानेर, बुधवार को उदयपुर, गुरुवार को कोटा, शुक्रवार को अजमेर, शनिवार को भरतपुर व रविवार को जयपुर संभाग के जिले जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए सैंपल भेज सकेंगे उन्होंने बताया कि जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए जयपुर मेडिकल एसएमएस मेडिकल कॉलेज नोडल सेंटर होगा।

श्री गालरिया ने बताया कि जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए सैंपल भेजने से पहले सभी प्रभारी यह सुनिश्चित कर लें कि मरीज के सिटी वैल्यू के सैंपल 30 से ज्यादा ना हो।साथ ही सैंपल पूरे मानकों और प्रोटोकॉल की पालना के साथ ही भिजवाए जाएं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में जयपुर की एसएमएस मेडिकल कॉलेज में जिनोम सीक्वेंसिंग की सुविधा है। जयपुर के अलावा जोधपुर में भी जिनोम सीक्वेंसिंग की सुविधा प्रारंभ करने की तैयारियां की जा रही है।

Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें