आरपीएससीः-निरीक्षण दौरान अध्यक्ष डॉ शिव सिंह राठौड ने किया अभ्यर्थियों से संवाद



राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा 22 दिसम्बर को स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में आयोग अध्यक्ष डॉ. शिव सिंह राठौड ने सदस्यों सहित आयोग परिसर का निरीक्षण किया व स्थापना दिवस की तैयारियों को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

इस दौरान उन्होंने आयोग में आए हुए अभ्यर्थियों से संवाद करते हुए विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा भी की। अभ्यर्थियों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का जवाब देते हुए डॉ.. राठौड ने कहा कि सहायक वन संरक्षक व अन्य भर्ती परीक्षाओं के साक्षात्कार की दिनांक शीघ्र घोषित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने उपस्थित अभ्यर्थियों को आयोग के द्वारा किए गए नवाचारो तथा प्रक्रियाओं से भी अवगत कराया।

डॉ. राठौड ने कहा कि अभ्यर्थियों को राहत देने के लिए वन टाइम रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शीघ्र शुरू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। परिवेदना दर्ज कराने के लिए अभ्यर्थियों को आयोग कार्यालय न आना पड़े इसके लिए अभ्यर्थी परिवेदना पोर्टल भी शुरू किया जा चुका है। 

डॉ. राठौड ने कहा अभ्यर्थियों के लिए आयोग द्वारा कराए जाने वाले कार्य का सही लाभ तभी होता है, जबकि स्वयं अभ्यर्थी इन कार्यों से संतुष्ट हों। उन्होंने आयोग के  अधिकारियों व कार्मिकों को अभ्यर्थियों के कार्य पूर्ण संवेदनशीलता रखते हुए करने के निर्देश भी दिए।

उपस्थित अभ्यर्थियों ने चर्चा दौरान आयोग की कार्यप्रणाली के प्रति पूर्ण संतोष जाहिर किया। साथ ही आयोग परिसर में किए जा रहे कलात्मक कार्यों की भी प्रशंसा की।

निरीक्षण के दौरान संयुक्त सचिव श्री आशुतोष गुप्ता सहित अन्य कार्मिक उपस्थित रहे। 
बिहार लोक सेवा आयोग अध्यक्ष ने किया आरपीएससी का दौरा

बिहार लोक सेवा आयोग अध्यक्ष श्री आरके महाजन ने राजस्थान लोक सेवा आयोग का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने ऑनलाइन परीक्षा फार्म, फार्मों की जांच व परिणाम तैयार करने की प्रक्रिया समझी।

राजस्थान लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष डॉ. शिव सिंह राठौड से मुलाकात के दौरान उन्होंने ऑन स्क्रीन मार्किंग प्रणाली व वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के संबंध में विस्तृत चर्चा की। आयोग की ऑन स्क्रीन मार्किंग प्रणाली की सराहना करते हुए इसे गोपनीयता के दृष्टिकोण से शानदार तकनीक बताया।

श्री महाजन ने आयोग की कार्यप्रणाली की प्रशंसा करते हुए कहा कि राजस्थान लोक सेवा आयोग नवाचारों में सदैव अग्रणी रहा है। कार्यप्रणाली व साक्षात्कार सहित विभिन्न प्रक्रियाओं में संवर्धन हेतु आयोग के प्रयास सदैव सराहनीय रहे हैं।



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें