बजट घोषणाओं के लिए आभार अनुदान में बढोतरी से पशुपालकों के घर में आएगी खुशहाली : मुख्यमंत्री


Advt

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार ने बजट में सभी वर्गों के कल्याण के लिए घोषणाएं की हैं। प्रदेश की अर्थव्यवस्था में कृषि एवं पशुपालन क्षेत्र के महत्व को देखते हुए पहली बार अलग से कृषि बजट प्रस्तुत किया। डेेयरी उद्योग को मजबूत करने के लिए मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना के तहत अनुदान राशि को 2 रूपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 5 रूपये प्रति लीटर करने जैसा अभूतपूर्व कदम हमारी सरकार ने उठाया है। हमारा प्रयास है कि इस योजना के माध्यम से पशुपालकों के घर में खुशहाली आए और दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में राजस्थान देश का अग्रणी राज्य बने।  

श्री गहलोत सोमवार शाम को मुख्यमंत्री निवास पर बजट घोषणाओं के लिए आभार व्यक्त करने बड़ी संख्या में पहुंचे दुग्ध उत्पादकों के प्रतिनिधिमण्डल को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान विभिन्न वर्गों, समुदायों एवं संस्थाओं से सम्बन्धित अन्य प्रतिनिधिमंडलों ने भी श्री गहलोत का बजट के लिए अभिनन्दन किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हाेंने अपने पिछले कार्यकाल में भी पशुपालकों के लिए 2 रूपये प्रति लीटर अनुदान दिया था लेकिन पिछली सरकार के समय इसे बन्द कर दिया गया। इस बार हमारी सरकार बनते ही पुनः इसे लागू किया। अब जल्द ही पशुपालकों को 5 रूपये प्रति लीटर अनुदान मिलने लगेगा। 

श्री गहलोत ने कहा कि वर्ष 2004 के बाद नियुक्त कार्मिकों के लिए पूर्व पेंशन योजना लागू करने, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत निशुल्क बीमा कवरेज को 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख रूपये करने, सभी सरकारी अस्पतालों मेें ओपीडी एवं आईपीडी में निशुल्क उपचार, शहरी क्षेत्रों में रोजगार गारन्टी योजना प्रारम्भ करने, प्रदेश के सभी जिलों में किसानों को दिन में बिजली देने जैसी घोषणाएं इस बजट के माध्यम से की गई हैं। हम सभी का यह दायित्व है कि इन घोषणाओं को प्रदेश के जन-जन तक पहुंचाएं और उन्हें लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करें।

अजमेर डेयरी के अध्यक्ष श्री रामचंद्र चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने दुग्ध अनुदान राशि बढ़़ाने की घोषणा कर प्रदेशभर के पशुपालकों को उम्मीद से कहीं अधिक राहत दी है। इससे राजस्थान के बाहर की एवं निजी डेयरियों की तुलना में सरस डेयरी के दुग्ध संकलन में आशातीत बढोतरी होगी। इसका लाभ लाखों पशुपालकों को होगा।

इस अवसर पर डेयरी संघ, राजस्थान नर्सेज एसोसिएशन एकीकृत, पशु चिकित्सक एवं कर्मचारी संघ, विश्वकर्मा ट्रांसपोर्ट यूनियन, बागरिया समाज, घुमंतु जाति उत्थान समिति मेडता, रोडवेज सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति, विप्र कल्याण बोर्ड, महाराणा प्रताप कृषि विश्वविद्यालय उदयपुर, पिंकसिटी फल सब्जी व्यापार समिति, जैतारण विधानसभा क्षेत्र, जस्टिस फॉर छाबड़ा संगठन सहित विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधिमण्डलों ने भी बजट घोषणाओं के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।


Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें