साम्प्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें — मुख्यमंत्री


Advt

सीएम ने करौली में हुई घटना की उच्च स्तरीय समीक्षा की—

साम्प्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें — मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में कहीं भी साम्प्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचाने वाली घटना होने पर पुलिस उसमें शामिल तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि अपराधी चाहे किसी धर्म, जाति या वर्ग का हो, अपराध में उसकी संलिप्तता पाये जाने पर उसे बख्शा नहीं जाए। 

श्री गहलोत रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर करौली में हुई घटना के बाद के हालात की उच्च स्तरीय समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि करौली में हुई घटना की पुनरावृत्ति कहीं और नहीं हो, इसके लिए पुलिस प्रो-एक्टिव होकर शांति व्यवस्था कायम रखने की दिशा में ऎहतियाती कदम उठाए। हर थाना स्तर पर हार्डकोर अपराधियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने सीएलजी की मदद से विभिन्न समुदायों के बीच शांति का माहौल कायम करने तथा कम्यूनिटी पुलिसिंग को बढ़ावा देने के निर्देश दिए। 

मुख्यमंत्री ने ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री श्री रमेश मीणा एवं गृह राज्य मंत्री श्री राजेन्द्र सिंह यादव से भी इस घटना के बारे में फीडबैक लिया। पुलिस महानिदेशक श्री एम.एल. लाठर ने करौली में हुई घटना एवं पुलिस द्वारा अभी तक की गई कार्यवाही के बारे में जानकारी दी। 

बैठक में मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री अभय कुमार, डीजी इंटेलीजेंस श्री उमेश मिश्रा, एडीजी क्राइम श्री आरपी मेहरड़ा, एडीजी कानून-व्यवस्था श्री हवासिंह घुमरिया एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।   




Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें