उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक इन्वेस्ट समिट के निवेश प्रस्तावों को सफल बनाएं




उद्योग और वाणिज्य मंत्री श्रीमती शकुंतला रावत ने गुरुवार को विभाग और संबंधित संस्थाओं की समीक्षा बैठक के दौरान निर्देश दिए कि इन्वेस्ट राजस्थान में मिले प्रस्तावों को जल्द से जल्द पूर्ण करें। उन्होंने कहा के कोविड संक्रमण की आशंकाओं के कारण इन्वेस्ट समिट भले ही स्थगित हो गया है, लेकिन इसके लिए प्राप्त प्रस्तावों की प्रक्रिया की गति कम नहीं होनी चाहिए। उद्योग मंत्री ने कहा के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत प्रदेश को देश का औद्योगिक केंद्र और उन्नत राज्य बनाना चाहते हैं और सभी विभाग इस दिशा में सम्मिलित प्रयास कर रहे हैं।

विभागों की समीक्षा पर संतोष व्यक्त करते हुए उद्योग मंत्री ने लघु उद्यमियों, हस्तशिल्प और हथकरघा व्यवसाय करने वालों के लिए विशेष प्रावधान करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को प्रयास करने चाहिए कि कोरोना के विपरीत हालात में भी इन लघु व्यवसायियों के हित संरक्षित रहें।

उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारियों द्वारा उत्कृष्ट कार्य किया जा रहा है ऎसे में आम जन में भी इसका संदेश जाना चाहिए । उन्होंने कहा के राज्य सरकार की नीतियों और विभाग के अथक प्रयास से इन्वेस्ट राजस्थान के लिए पांच लाख करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं, ये प्रदेश में करीब तीन लाख रोजगार के अवसर सृजित करेंगे और हमारा प्रयास रहेगा कि इन्हें जल्द से जल्द सफल बनाएं।

समीक्षा बैठक में उद्योग और वाणिज्य सचिव और एमडी रीको श्री आशुतोष ए.टी. पेडणेकर; ईडी रीको श्रीमती रुक्मिणी रियार, चेयरमैन राजस्थान फाउंडेशन श्री धीरज श्रीवास्तव के साथ रीको, रुडा, उद्योग और वाणिज्य, डीएमआईसी, राजस्थान लघु उद्योग, आरएफसी, बीआईपी, राजस्थान लघु उद्योग निगम, बीडा, राजस्थान राज्य हस्तकरघा विकास निगम, राजस्थान खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, राजस्थान राज्य बुनकर संघ के साथ साथ अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें