राजीविका के अन्तर्गत गठित स्वयं सहायता समूहों की एक दिवसीय कार्यशाला



ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती अपर्णा अरोड़ा ने राजीविका समूह सदस्य महिलाओं के उत्पादों की ब्राण्डिंग, क्वालिटी कन्ट्रोल, पैकेजिंग व मार्केटिंग पर बल देते हुए इसके लिए विस्तृत कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए है। 

श्रीमती अरोड़ा सोमवार को यहां इन्दिरा गांधी पंचायतीराज संस्थान में राजीविका के अन्तर्गत गठित स्वयं सहायता समूहों को सुदृढ़ करने के लिए आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला ‘‘समूह संबल संवाद‘‘ को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि कार्यशाला में ग्राम संगठनों, क्लस्टर स्तरीय संगठनों तथा प्रस्तावित ब्लॉक एवं जिला स्तर पर गठित किये जाने वाले संगठनों को सुदृढ़ करने उनके क्षमता संवद्र्धन करने, उनके उत्पादों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने तथा उनमें मूल्य संवद्र्धन करने, उन्हे वर्तमान परिस्थितियों में प्रचलित बाजार से जोड़ने के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए एक दिवसीय कार्यशाला ‘‘समूह संबल संवाद‘‘ का आयोजन किया गया है। 

ग्रामीण विकास विभाग के शासन सचिव एवं राजीविका के राज्य मिशन निदेशक डॉ. के.के. पाठक ने बताया कि वर्तमान मे राज्य  2 लाख 30 हजार स्वयं सहायता समूह है जिसमें 27 लाख 18 हजार ग्रामीण महिलाएं समूह से जुड़ी हुई है। समूहों को परियोजना के माध्यम से 773 करोड रुपये का आजीविका सवंर्धन एवं 2400 करोड़ रुपये से अधिक का बैक ऋण उपलब्ध करया गया है।

कार्यशाला में बैंक ऑफ बड़ौदा के उप महाप्रबंधक श्री अशोक सिंघल ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे राज्य में स्वयं सहायता समूहों को 2400 करोड़ रुपये का ऋण बैंकों द्वारा उपलब्ध कराया गया है, जिसमें एन.पी.ए. एक प्रतिशत से भी कम है। उन्होंने अधिक से अधिक ऋण स्वीकृत किये जाने हेतु आश्वस्त किया। 

राजीविका की ब्रॉड़ एम्बेस्ड़र श्रीमती रूमा देवी द्वारा अपने अनुभवों को साझा करते हुये महिलाओं को प्रेरित किया तथा इस संबंध में पूर्ण सहयोग दिये जाने की अपील की।

कार्यशाला में क्लस्टर लेवल फैडरेशन की महिला प्रतिनिधियों द्वारा अपने-अपने अनुभव साझा किये गये एवं वर्तमान में आ रही समस्याओं के संबंध में विस्तृत संवाद कर भविष्य की रूपरेखा तैयार की गई। 

कार्यशाला में पंचायती राज विभाग के शासन सचिव श्री पी.सी. किशन, महात्मा गांधी नरेगा के आयुक्त श्री अभिषेक भगोतिया, बैंकों के प्रतिनिधि तथा परियोजना निदेशक श्री हरदीप सिंह चौपड़ा, राजीविका एवं अन्य प्रतिनिधियों के साथ क्लस्टर लेवल फैडरेशन की लगभग 150 महिला प्रतिनिधियों ने भाग लिया। 



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें