न्यूनतम समर्थन मूल्य पर दलहन एवं तिलहन की खरीद प्रक्रिया में गति लाएं -मुख्य सचिव



मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य ने राजस्थान राज्य सहकारी क्रय-विक्रय संघ लिमिटेड (राजफेड) द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर दलहन एवं तिलहन की खरीद प्रक्रिया में गति लाने के निर्देश दिए हैं, ताकि प्रदेश के किसानों को अपनी उपज का उचित मूल्य मिले और उसका समय पर भुगतान सुनिश्चित हो।

श्री आर्य ने मंगलवार को राजफेड की राज्य स्तरीय संचालन समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार की ओर से खरीफ 2021 सीजन के लिए निर्धारित खरीद लक्ष्य को जल्द से जल्द पूरा कर नेफेड के माध्यम से किसानों को भुगतान किया जाए। गौरतलब है कि राजफेड द्वारा प्रदेश में दलहन के रूप में मूंग तथा उड़द और तिलहन के रूप में सोयाबीन और मूंगफली की खरीद नवंबर 2021 में शुरू की गई है, जो 90 दिनों तक जारी रहेगी। 

बैठक में राजफेड की प्रंबध निदेशक श्रीमती सुषमा अरोड़ा ने बताया कि इस खरीफ सीजन में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल खरीद के लिए कुल 876 क्रय केन्द्र शुरू किए गए हैं। सभी जगह बारदाने की उपलब्धता पर्याप्त है तथा अभी तक 346 करोड़ रुपये मूल्य की उपज खरीदी जा चुकी है। 

बैठक में शासन सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री नवीन जैन, राजफेड तथा नेफेड के अधिकारियों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें