अजमेर जिले के प्रभारी मंत्री ने किया विकास कार्यों का शुभारम्भ




वर्तमान सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में राजकीय संग्रहालय में आयोजित समारोह में जल संसाधन विभाग एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री महेन्द्रजीत सिंह मालविया ने विभिन्न विभागों के विकास कार्यों का शुभारम्भ किया। उन्होंने अपने संबोधन में आमजन की अपेक्षाओं पर खरा उतरने का प्रयास करने का आह्वान किया।

श्री सिंह मालविया ने कहा कि वर्तमान सरकार के तीन वर्षों के दौरान कोरोना महामारी से विकास प्रभावित हुआ। इसके बावजूद जिले एवं प्रदेश में विकास कार्यों की कमी नहीं रही। यह मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की दूरदर्शिता का परिणाम है। मुख्यमंत्री का वीसी के माध्यम से लगातार क्षेत्र से जुड़ाव बना रहा। कोरोनाकाल में किया गया प्रबंधन एक मिशाल बना। इसकी सराहना सभी जगह हुई।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार गरीब को गणेश मानकर कार्य कर रही है। इस उद्देश्य के साथ किए गए कार्यों से आमजन को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से लाभ मिल रहा है। ग्रामीणों के जीवन को खुशहाल बनाने के लिए सरकार प्रयासरत है। ग्रामीण विकास से जुड़ी योजनाओं को आगे बढ़ाकर ग्रामीणों की सरकार के प्रति अपेक्षाओं को पूर्ण किए जाने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से लाभान्वित बिना खर्चा किए परिवार के समस्त सदस्यों का उपचार करा सकते है।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा कई विकास कार्यों की स्वीकृति जारी की गई है। इन कार्यों का शिलान्यास होेने के उपरांत त्वतरित गति से कार्य होना चाहिए। समय पर कार्य पूर्ण होने पर आमजन के लिए ये कार्य ज्यादा उपयोगी साबित होंगे। समय पर कार्य पूर्ण करने में टीम भावना की विशेष आवश्यकता रहती है। जिला कलक्टर के द्वारा इस दिशा में बेहतरीन कार्य किया जा रहा है। टीम भावना से किया गया कार्य देश और समाज को नई ऊंचाईयों तक ले जा सकता है।

मसूदा विधायक श्री राकेश पारीक ने कहा कि वर्तमान सरकार ने अपने 75 प्रतिशत वादे पूर्ण कर लिए है। गांवों में मॉडल तालाब, चारागाह विकास, शमशान घाट जैसे कार्यों से विकास को नई दिशा मिली है। अजमेर जिला खेल मैदानों के क्षेत्र में प्रथम है। यह उपलब्धि अन्य क्षेत्रों में भी होनी चाहिए। जल जीवन मिशन, महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल, विद्यालय क्रमोन्नयन, अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय, देवनारायण आवासीय विद्यालयों जैसे कार्यों से सरकार ने आमजन के लिए उल्लेखनीय कार्य किया है।

किशनगढ विधायक श्री सुरेश टांक ने कहा कि चिरंजीवी योजना के कारण सरकार को आमजन की दुआएं मिल रही है। सरकार की मंशा प्रत्येक व्यक्ति को इससे लाभन्वित करने की है। इसके लिए मानदेय का प्रावधान भी किया गया है। यह एक अच्छा नवाचार है। सरकार द्वारा किए गए कार्यों से शोषित, पीड़ित एवं पिछड़े वर्ग को सहारा मिलेगा।

जिला कलक्टर श्री प्रकाश राजपुरोहित ने बताया कि वर्तमान सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में मंगलवार को आयोजित समारोह में विभिन्न विभागों के विकास कार्यों का शुभारम्भ किया गया। जल संसाधन विभाग के नाहर सागर पीपलाज बांध केकड़ी एवं नहरों के जीर्णोद्धार का कार्य 204.12 लाख रूपए की लागत से किया गया था। इसका लोकार्पण प्रभारी मंत्री श्री मालविया ने किया। गजसागर सरवाड़ के एनीकेट के 77.74 लाख रूपए की लागत के मरम्मत कार्य का शिलान्यास किया गया।

उन्होंने बताया राजकीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय राजारेडी किशनगढ़ एवं स्वामी विवेकानन्द राजकीय मॉडल स्कूल पीसांगन में निर्मित चार डिजीटल कक्षा-कक्षों का लोकार्पण किया गया। प्रत्येक विद्यालय में दो कक्षा-कक्ष के निर्माण पर 2.4 लाख रूपए की लागत आई। राजस्थान राज्य सड़क विकास एवं निर्माण निगम के माध्यम से किए जा रहे नसीराबाद-केकड़ी-देवली सड़क के नवीनीकरण एवं सुदृढीकरण के कार्य का शिलान्यास हुआ। अजमेर विकास प्राधिकरण द्वारा होकरा में विकसित की जा रही ट्यूरिस्ट कॉम्पलेक्स बहुउद्देशीय योजना का शिलान्यास किया गया। इसके प्रथम चरण में 19.79 हैक्टेयर भूमि को विकसित करने की योजना है।

उन्होंने बताया कि स्वायत्त शासन विभाग के तीन कार्यों का लोकार्पण किया गया। एलसी-32 फरासिया किशनगढ रेलवे फाटक पर निर्मित आरओबी का लोकार्पण किया गया। इस पर 3415.41 लाख रूपए की लागत आई। पुष्कर में निर्मित अम्बेडकर भवन का भी लोकार्पण हुआ। नगर परिषद किशनगढ क्षेत्र में सीवरेज लाईन बिछाने का कार्य एवं सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट अपग्रेडेशन के कार्य पर 125.55 करोड़ रूपए की लागत आई। इसका लोकार्पण प्रभारी मंत्री द्वारा किया गया।

उन्होंने बताया कि अजमेर स्मार्ट सिटी के माध्यम से अरबन हाट में 1.93 करोड़ रूपए की लागत से फूड कोर्ट, पुरानी विश्रामस्थली पर 5.46 करोड़ की लागत से हुए लेकफ्रंट के विकास एवं सौदंर्यीकरण कार्य, आनासागर सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट पर 2.09 करोड़ की लागत से स्थापित 350 किलोवाट के सोलर प्लांट, शास्त्री नगर में 1.17 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित राजकीय पशु चिकित्सालय राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय तोपदडा एवं सावित्री के 6.65 करोड़ रूपए के आधुनिकीकरण कार्य तथा सूचना केन्द्र में 1.30 करोड़ की लागत से बने ओपन एयर थियेटर का लोकार्पण किया गया।

उन्होंने बताया कि इसी प्रकार अजमेर स्मार्ट सिटी के द्वारा बनाए गए सागर विहार में बर्ड पार्क लागत 90 लाख रूपए, प्रगति नगर खेल मैदान में पार्क विकास लागत 1.70 करोड़ रूपए, सागर विहार पाल का नवीनीकरण एवं सौन्दर्यीकरण लागत 1.96 करोड़ रूपए, केईएम में 3डी प्रोजेक्शन मैपिंग शो लागत 3.22 करोड़, सूचना केन्द्र में भूतल पार्किंग निर्माण लागत 1.66 करोड़ रूपए, विभिन्न स्थानों पर म्यूजिकल फांउटेन लागत 4.92 करोड़ रूपए तथा विवेकानन्द पार्क के लैंडस्केपिंग एवं सौन्दर्यीकरण कार्य लागत 1.82 करोड़ रूपए का लोकार्पण किया गया। सहकारिता विभाग की ग्राम सेवा सहकारिता समिति गोदाम एवं कार्यालय भवन कालेसरा, सुरसुरा, भिनाय, कणोज, केबानिया, सुरडिया एवं दौलतपुरा का लोकार्पण तथा मांगलियावास एवं झडवासा का शिलान्यास किया गया। प्रत्येक कार्य की लागत 12 लाख रूपए है।

जिला दर्शन पुस्तिका का किया विमोचन

सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय द्वारा वर्तमान सरकार के तीन वर्षों में किए गए विकास कार्यों को एक पुस्तिका का रूप दिया गया है। इस जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन प्रभारी मंत्री श्री महेन्द्रजीत सिंह मालविया द्वारा समारोह के दौरान किया गया। इस पुस्तिका में विभिन्न विभागों द्वारा जिले में किए गए विकास कार्यों एवं नवाचारों को स्थान दिया गया है। जिला परिषद द्वारा महात्मा गांधी नरेगा योजना पर भी पुस्तिका तैयार की गई थी। ग्रामीण क्षेत्रों में राजकीय विद्यालयों के लिए खेल मैदान तैयार करने को केन्द्र में रखकर पुस्तिका बनाई गई। इसके साथ-साथ जिला पर्यावरण योजना की पुस्तिका का भी विमोचन किया गया।

अजमेर जिले को मिली अपनी वेबसाईट

सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा अजमेर जिले की वेबसाईट विकसित की गई है। इसका शुभारम्भ प्रभारी मंत्री श्री महेन्द्रजीत सिंह मालवीया ने माउस का बटन दबाकर किया। वेबसाईट www.ajmer.rajasthan.gov.in  पर अजमेर जिले से संबंधित अद्यतन जानकारियों को समावेशित किया गया है। यह वेबसाईट जिलेवासियों के साथ-साथ अन्य व्यक्तियों को भी अजमेर से रूबरू कराएगी।

स्वंय सहायता समूहों को मिला क्रेडिट लिंकेज ऋण

वर्तमान सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में जिले के प्रभारी मंत्री श्री महेन्द्रजीत सिंह मालविया द्वारा स्वंय सहायता समूहों की महिलाओं को भी सौगात दी गई। क्रेडिट लिंकेज ऋण योजना के तहत 234 स्वंय सहायता समूहों को 6 करोड़ 70 लाख 73 हजार तथा 159 स्वंय सहायता समूहों को एक करोड़ 29 लाख 25 हजार की राशि जारी की गई।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री श्रीमती नसीम अख्तर, महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के संयोजक एवं पूर्व विधायक डॉ. श्री गोपाल बाहेती, पूर्व विधायक श्री रामनारायण गुर्जर, निवर्तमान अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र सिंह राठौड़, एवं श्री विजय जैन, श्री महेन्द्र सिंह रलावता एवं पुलिस अधीक्षक श्री विकास शर्मा, जवाहर फाउंडेशन के श्री रजनीश कुमार एवं श्री शिव कुमार बंसल सहित जनप्रतिनिधि सामाजिक कार्यकर्ता एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें