प्रदेश में टीकों की कमी के बीच एटीसीएस ने अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए किया कोविड-19 टीकाकरण कैम्प का आयोजन

एडवांस्ड टैक्नोलाॅजी कंसल्टिंग सर्विस- एटीसीएस ने आज मणिपाल अस्पताल, जयपुर के साथ साझेदारी में किया अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए टीकाकरण कैम्प का आयोजन
अपने 600 कर्मचारियों और उनके आश्रितों के टीकाकरण का खर्च वहन करेगी कंपनी
कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए ऑनलाइन कंसल्टेंसी के लिहाज से एटीसीएस ने की प्रैक्टो के साथ भागीदारी
कंपनी ने की फैमिली केयर लीव्स की शुरुआत, एचआर संबंधी नीतियों में भी बदलाव।

जयपुर- एडवांस्ड टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग सर्विस (एटीसीएस) ने महिंद्रा सेज जयपुर स्थित अपने कार्यालय परिसर में मणिपाल अस्पताल जयपुर के साथ साझेदारी में अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए टीकाकरण अभियान का आयोजन किया।

कंपनी ने ऐसे समय में यह पहल की है, जबकि कर्मचारियों और उनके परिवारों को कोविड-19 टीकाकरण के लिए स्लॉट बुक करने में कठिनाई हो रही थी। कंपनी ने एटीसीएस इंडिया के सभी कर्मचारियों और उनके आश्रितों के टीकाकरण का खर्च वहन किया है। इसके साथ ही कोविड संकट के बीच स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठाने में आने वाली कठिनाइयों और इससे जुड़े जोखिमों को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने ऑनलाइन चिकित्सा परामर्श के लिए प्रैक्टो के साथ भागीदारी की है। इसके तहत 23 प्रकार के चिकित्सा विशेषज्ञ ऑनलाइन कंसल्टेंसी के लिए उपलब्ध रहेंगे। यह सेवा सभी कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए 24x7 उपलब्ध है।

कंपनी की इस पहल के बारे में जानकारी देते हुए एटीसीएस इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री संजुल वैश्य ने कहा, ‘‘पूरी दुनिया कोविड-19 की इस भयावह लहर से जूझ रही है, जिसने हमारे परिवारों, समुदायों, काम और जीवन के तरीके को अभूतपूर्व तरीके से प्रभावित किया है। एटीसीएस कोविड-19 महामारी से प्रभावित सभी लोगों के प्रति सहानुभूति का भाव रखती है और कंपनी अपनी ओर से यथासंभव सहायता उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है। हमारे लिए अपने कर्मचारियों का स्वास्थ्य, उनकी सुरक्षा और भलाई हमेशा सबसे पहले है और इसी सिलसिले में हमने यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाए हैं, ताकि हमारे कर्मचारियों को कोविड के खिलाफ टीके की सुरक्षा हासिल हो सके।’’

उन्होंने आगे जानकारी देते हुए बताया कि अपनी तरह की एक नई पहल के तहत कंपनी ने फैमिली केयर लीव की शुरुआत की है। इसमें ऐसे कर्मचारी जिन्हें गंभीर कोविड-19 स्थितियों के कारण अपने परिवार के सदस्यों की देखभाल करने की आवश्यकता है, वे एक सप्ताह की अतिरिक्त पेड लीव ले सकते हैं। यह अवकाश उनके कोविड अवकाश और सालाना छुट्टियों के अलावा होगा, ताकि वे अपने परिजनों की बेहतर तरीके से देखभाल कर सकें।

इसके अलावा, कंपनी ने वित्तीय बोझ को कम करने के लिए अपनी एचआर पाॅलिसी में ऐसे बदलाव किए हैं, जिनसे कर्मचारियों को और आसानी रहेगी। इसके तहत अग्रिम वेतन, ब्याज मुक्त ऋण और परिवार बीमा की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। साथ ही, टीकाकरण के बाद की छुट्टी, दो सप्ताह के लिए कोविड सिक लीव, समर्पित कोविड-19 सहायता समूह, और काम के फ्लैक्सिबल घंटे, ताकि काम और जीवन के बीच संतुलन कायम रखने में आसानी हो सके।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें