घरेलु हिंसा और दहेज़ प्रताड़ित बबीता मीणा हत्या की निष्पक्ष जाँच की माँग - Sangri Times

SPORTS

घरेलु हिंसा और दहेज़ प्रताड़ित बबीता मीणा हत्या की निष्पक्ष जाँच की माँग

जयपुर। दहेज़ प्रताड़ित बबीता मीणा की हत्या की निष्पक्ष जाँच के लिए आदिवासी मीना समाज वालक्षेत्र विकास मंच ने संगठन उपाध्यक्ष बुद्धाराम बाबूजी के नेतृत्व में नायब तहसीलदार कैलाश पोसवाल को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा | ज्ञापन के दौरान संगठन उपाध्यक्ष ने बताया कि पाटन सीकर के गांवली दयाल नांगल निवासी बबीता की शादी 19 नवम्बर 2018 को मनोहरपुर (शाहपुरा) जयपुर निवासी रविप्रकाश के साथ हुई थी। शादी के बाद बबीता को ससुराल पक्ष के लोगों ने दहेज के लिए प्रताडित करना शुरू कर दिया था। तथा 15 मई 2020 को बबीता की संदिग्ध परिस्थितियों मे मौत हो गई | जिसे आत्महत्या का रूप दे दिया गया । आदिवासी मीणा समाज के लोगो ने ज्ञापन के माध्यम से मामले की निष्पक्ष जाँच की माँग की है | इस मौके पर संगठन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सीताराम, संगठन मंत्री कमलेश, नारायणपुर ईकाई के अध्यक्ष जलेसिह, सचिव गिर्राज प्रसाद उपस्थित रहे।

यह था मामला
मृतका बबीता मीणा के पिता ने पुलिस को बताया की बबीता की शादी 19 नवम्बर 2018 को मनोहरपुर (शाहपुरा) जयपुर निवासी रविप्रकाश के साथ हुई थी। शादी के बाद बबीता को बहुत तकलीफ़ दी गयी और ससुराल वालों ने उसे उसके माता-पिता से दूर रखा और उसे घर नहीं जाने दिया।  कुछ दिनों के बाद, बबीता अपने बच्चे के साथ किसी तरह कामयाब हुई और घर लौटने के लिए भाग गई।  बबीता के अनुसार ससुराल वालों द्वारा नियमित रूप से पीटा जाता था और परेशान किया जाता था। उसके पति उस अक्सर शराब पीकर पीटा करते थे और उस नग्न अवस्था में छत पर खड़ा कर दिया जाता था। बबीता के पिता ने उसके पति और सारे ससुराल वालों को गिरफ्तार करने की मांग की है लेकिन अब तक इस वारदात में सिर्फ उसके पति की गिरफ्तारी हुई है और जांच अब भी जारी है।

Sangri Times News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें.