विधानसभा अध्यक्ष से 18 देशों के 45 प्रशिक्षु अधिकारियों ने भेंट की - Sangri Times

SPORTS

विधानसभा अध्यक्ष से 18 देशों के 45 प्रशिक्षु अधिकारियों ने भेंट की

 

जयपुर।  विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी पी जोशी से गुरूवार को यहां विधानसभा में 18 देशों के 45 प्रतिनिधियों ने शिष्टाचार भेंट की । लोकसभा के ब्यूरो ऑफ पार्लियामेंट्री स्टडीज एंड ट्रेनिंग की ओर से आयोजित 35 वे पार्लियामेंट्री इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत आये 18 देशों के 45 प्रशिक्षु अधिकारियों ने विधानसभा अध्यक्ष से विधानसभा की कार्यवाही, लोकतंत्र एवं संसदीय प्रक्रिया पर विस्तार से विचार विमर्श किया । विधानसभा अध्यक्ष ने प्रतिनिधिमण्ड ल को बताया कि राजस्थांन में विधानसभा के 200 सदस्य हैं । विधानसभा का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है तथा वर्तमान में 4 वित्तीय एवं 18 अन्य समितियॉं कार्य कर रही हैं । उन्हों ने बताया कि विधानसभा में बजट सत्र के दौरान राज्य पाल के अभिभाषण पर चर्चा की जाती है इसी सत्र में राज्य का वार्षिक बजट प्रस्तुत किया जाता है तथा विभिन्न  विभागों की मांगों पर सदन में चर्चा की जाती है । डॉ. जोशी ने प्रश्नकाल, शून्यकाल, स्थान प्रस्ताव, पर्ची के माध्यम से उठाये जाने प्रश्नों् की प्रक्रिया एवं ध्यानाकर्षण प्रस्तांव सहित विधेयक पारित करने की प्रक्रिया पर विस्तार से प्रकाश डाला । विधानसभा अध्यक्ष ने राज्यंसभा सदस्यों  की निर्वाचन प्रक्रिया की भी जानकारी दी। विचार विमर्श के दौरान प्रतिनिधि मण्डल को राजस्थान की सांस्कृतिक, राजनैतिक, साहित्यिक, भौगोलिक स्थितियों तथा यहां की स्थापत्य  कला एवं इतिहास से भी अवगत करवाया । प्रारम्भ में ब्यूरो ऑफ पार्लियामेंट्री स्टडीज एंड ट्रेनिंग (बीपीएसटी) की अतिरिक्त निदेशक डा. सीमा कौल सिंह ने प्रतिनिधियों का परिचय करवाया तथा बताया कि लोकसभा में इंटर्नशिप कार्यक्रम 1985 से आयोजित किया जा रहा है । इंटर्नशिप कार्यक्रम में विभिन्नं देशों की प्रतिनिधि सभाओं के पदाधिकारियों को भारतीय संसदीय प्रणाली की जानकारी देने के लिए आमंत्रित किया जाता है। यह 35वॉं प्रशिक्षण कार्यक्रम 2 सितम्बर से एक अक्टूबर 2019 तक आयोजित किया गया है । इस दौरान संगोष्ठियों, सेमिनार में भाग लेने के साथ साथ विभिन्न् विधानसभाओं की अध्ययन यात्रा करवायी गयी है । इस दौरान उन्होंने ऎतिहासिक स्थलों का दृश्यावलोकन भी करवाया गया । प्रतिनिधिमण्डंल के सदस्यों ने बताया कि जयपुर के दर्शनीय स्थल अनूठे और ऎतिहासिक और विश्वप्रसिद्ध है । उन्होंने विधानसभा के सदन एवं भवन के स्थापत्या कला की भूरि भूरि प्रशंसा की। इस अवसर पर राज्य विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष  गुलाब चन्दद कटारिया, विधायक सर्वजे. पी.चन्देलिया, अशोक लाहौटी, रफीक खान, अभिनव महर्षि, रूपाराम, वाजिब अली, किरण माहेश्वरी,  अनीता भदेल, दिव्या मदेरणा, विधानसभा के कार्यवाहक सचिव दिनेश कुमार जैन, सहित लोक सभा एवं विधानसभा के पदाधिकारी उपस्थित थे । आगंतुक प्रतिनिधियों में  सईद माशूक सयीदी (अफगानिस्तान),  ताशी जोंगमो( भूटान ),  कोनटे सिरातीगुई (कोट दिव्वार ),  बेंजामिन ताची ऎंटीडू ( घाना ),  बर्नार्ड मासिंदे (केन्यां), श्यरयस सेबेरबेकोवा (किरगिस्तान) जीनथ मुहम्म्द ( मालदीव),  तीशा दीनू (मॉरिशस )  बिल्गीस गुरबजार (मंगोलिया), खिन थानन्यू( (म्यामार) ओमीनो  हसैन (नाइजर ) सहित नाइजीरिया, नेपाल, श्रीलंका, सूरीनाम, तंजानिया, टॉंगो तथा उज्बेकिस्तान देशों के प्रशिक्षु अधिकारी उपस्थित थे ।

Sangri Times News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें.