पीएचईडी के ‘रेस-वार्म‘ को मिला एप्रीसिएशन अवार्ड

 

जयपुर। जलदाय विभाग के तहत स्थापित राजस्थान सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन वाटर रिसोर्स मैनेजमेंट (रेसवार्म) को नई दिल्ली में आयोजित 5वीं सीआईआई वाटर इनोवेशन सम्मिट के तहत जल प्रबन्धन क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट कार्यो के लिए के लिए एप्रीसिएशन अवार्ड से नवाजा गया है। शासन सचिवालय में शुक्रवार को जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव  संदीप वर्मा को इंटरनेषनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन वाटर रिसोर्स मैनेजमेंट (आइसवार्म) की चेयरपर्सन तथा साउथ ऑस्ट्रेलिया गवर्नमेंट की पूर्व वाटर मिनिस्टर कर्लिन मेवाल्ड ने यह एप्रीसिएशन अवार्ड सुपर्द किया। इस अवसर पर आइसवार्म के सीईओ  डेरिल डे तथा डब्ल्यूएसएसओ के निदेशक  अरूण श्रीवास्तव भी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि ‘रेसवार्म‘ का गठन प्रदेश के जलदाय विभाग के तहत गवर्नमेंट ऑफ साउथ ऑस्ट्रेलिया तथा इंटरनेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन वाटर रिसोर्स मैनेजमेंट के तकनीकी सहयोग से किया गया है। राजस्थान सरकार व दक्षिण आस्ट्रेलिया सरकार के मध्यम सिस्टर स्टेट एमओयू के तहत शुक्रवार को दक्षिण आस्ट्रेलिया सरकार से आए प्रतिनिधि मण्डल के सदस्यों- कर्लिन मेवाल्ड, डेरिल डे, हेमन्त पदाले, साईमन स्टीवर्ट, विजय कुमार, राहुल रंजन, एलीसन ह्यूज, अनुपमा कुमार, मार्क कैरी एवं विजय शेखावत ने जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव के साथ आयोजित बैठक में जल प्रबन्धन से सम्बन्धित विभिन्न बिन्दुओं पर भी चर्चा की। प्रतिनिधि मण्डल ने डब्ल्यूएसएसओ कार्यालय में चल रहे विभिन्न प्रोजेक्टस् का रिव्यू किया, जिसमें जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, भूजल विभाग एवं एम.एन.आई.टी के विभिन्न अधिकारियों के साथ विस्तृत विचार विमर्श हुआ। बैठक के दौरान उक्त प्रतिनिधि मण्डल के समक्ष विभिन्न नए प्रोजेक्टस् जो रेसवार्म के माध्यम से करवाए जाने प्रस्तावित है का प्रजेन्टेशन दिया गया। इस दल ने जयपुर की सांगानेर तहसील की ग्राम पंचायत ठिकरिया का भ्रमण कर डब्ल्यूएसएसओ द्वारा प्रायोजित जल जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत की जा रही विभिन्न गतिविधियों का अवलोकन कर जानकारी प्राप्त की।


 

Sangri Times News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें.

Related Articles