कोरोना माहमारी मे प्रवीणलता संस्थान ने पेश की मानवता की मिसाल

प्रवीणलता संस्थान ने कोविड संकटकाल  के पहले चरण की तालाबंदी के दौरान 1000 जरुरतमंद परिवारों की मदद की। संस्थान ने दैनिक वेतन भोगियों,काम वाली बाईयों,रिक्शा चालकों और बाहरी राज्यों से आये श्रमिक वर्गों को 15 दिनों का ड्राई राशन पैक वितरित किये। किट मे  आटा, चावल, दाल, तेल,नमक, चाय,चीनी और मसालें आदि दिये ।इसमे ज्यादातर यू.पी.,बिहार,बंगाल,तमिल और उतराखण्ड के श्रमिक वर्ग शामिल थे।

_x000D_ _x000D_

संस्थान ने अपनी प्रगति सखियोंं के द्वारा सिंगल लेयर और डबल लेयर मास्क बना कर पुलिस प्रशासन,नगर निगम,लोकल रेजीडेंटस,होमगार्ड और फ्रंटलाइन वर्कर्स को करीब 2000 रियूजेबल मास्क दिए और करीब 250 सेनेटाईजर्स वितरित किये गये। टीम वास्तविक जरूरतमंद लोगों की पहचान कर उनके दरवाजे तक सामग्री पहुंचाने का काम कर रही है। पहले चरण में डोनेट कार्ट,हैल्पयौर एन. जी.ओ.,हैपी,हैनसोल लॉजिस्टिक और इंडिविजुअल डोनर्स के समर्थन से फंड जुटाया गया वहीं मयोरी कंसीसियस क्लोथिंग लिमिटेड ने मास्क बनाने के लिए क्लॉथ कटिंग का सपोर्ट किया।

_x000D_ _x000D_

प्रवीणलता संस्थान के संस्थापिक भारती   सिंह चौहान ने कहा - हम दुसरे चरण के तालबंदी मे करीब  2000 परिवारों को  ड्राई राशन की सुविधा उपलब्ध करवाने का प्रयास करेंगे।  संस्थान सभी दानदाताओं, स्वयंसेवकों, मीडिया समूहों और कॉर्पोरेट घरानों का धन्यवाद ज्ञापित करती है जिन्होने इस संकट के समय मे विशेष भूमिका निभाई। संस्थान के फ्रंट लाइन कोविड़ योद्धा प्रवेश गोयल जो इस अभियान की अगुवाई कर रहे है उन्होने महसूस किया है कि कैसे लोग लॉक डाउन मे अपने परिवार के लिये दो वक़्त की रोटी के लिये जुझ रहे है।बहुत से मध्यम वर्गीय परिवार ऐसे है जो संकोचवश अपनी परेशानी नही बता पा रहे है संस्था वहां तक भी मदद पहुंचा रही है।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें