जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2020 में छाएगा चीन की फिल्मों का जादू

जयपुर। गुलाबी शहर की गुलाबी सर्दियों में होने जा रहा है जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (JIFF)। दुनिया भर में अपनी ख़ास पहचान जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल [जिफ] का 12वां संस्करण होने जा रहा है। सिने प्रेमियों के लिए यह जानना किसी खुशखबरी से कम नहीं है कि जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ट्रस्ट और आर्यन रोज़ फाउण्डेशन की ओर से आयोजित जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल [ जिफ] का आगाज़ आगामी वर्ष 17 से 21 जनवरी को आयनॉक्स सिनेमा हॉल, जी.टी. सेन्ट्रल में होने जा रहा है।

_x000D_ _x000D_

जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल इस बात के लिए जाना जाता है कि यहां दुनिया भर के देशों से आई फिल्में दिखाई जाती हैं। सिनेप्रेमियों के लिए यह जानना ख़ास होगा कि जिफ 2020 में चीन से आई कई फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा।

_x000D_ _x000D_

चीनी फिल्मों में इन दा मड| नैगिंग| दा जोकर| फीलिंग्स टू टैल| मोज़ैक पोट्रेट| हैवी क्रेविंग|   दा नॉट|प्रॉहिबिट रिटर्न|अनस्टॉपेबल| रिडिकुलस स्कॉलर|ब्लडी डेज़ी और सन राइज़ेस फ्रॉम दा ईस्ट पोल का प्रदर्शन ख़ास रहेगा।

_x000D_ _x000D_

इन दा मड

_x000D_ _x000D_

यह शॉर्ट फिक्शन फिल्म 21वीं सदी में चीन के सरकारी तंत्र में फैले भ्रष्टाचार के बारे में है। वर्ष 2000 के आस – पास चीन ने लोगों पर अंतिम संस्कार से जुड़े कानून लागू कर दिए थे, लेकिन एक ऐसा गांव रह गया, जहां इन नियमों के बारे में कोई नहीं जानता। गांव में जांच करने आए एक पुलिस अधिकारी को मालूम हुआ कि पूरा गांव ही अन्धविश्वासों में डूबा हुआ है। ऐसे में, कॉफिन बनाने वाले कारपेन्टर के पास अब काम नहीं रहेगा, और यही सोचते हुए उसकी जिंदगी में उदासी फैल जाती है। ऐसे में वह केवल यही चाहता है कि मृत्यु के बाद उसे दफनाया ही जाए। वह गांव वालों की लापरवाही का फायदा उठाते हुए एक ऐसी बकरी को मार देता है, जिसे समूचा गांव पूजता है। लेकिन वह ख़ुद इस जंजाल में फंस जाता है और उसे अपनी जान तक गंवानी पड़ती है। फिल्म चीन के ग्रामीण हिस्सों के लोगों की बेपरवाही को उजागर करती है।

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

 नैगिंग

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

चीन की इस शॉर्ट फिक्शन फिल्म का निर्देशन शैंग गाओ ने किया है। फिल्म की कहानी एक दादी मां के इर्द – गिर्द घूमती है, जो बौद्ध मंत्रों का जाप करती है, आध्यात्मिकता के प्रति समर्पित है और अपने पोते बिनबिन की देखभाल करती है। अकसर पेरेंट्स के बाहर रहने के कारण बिनबिन अकेला महसूस करता है और विद्रोही हो जाता है। वह सारा दिन गेम्स खेलता रहता है। एक दिन बिनबिन के पिता उसे कहते हैं कि काम के चलते वे घर नहीं आ सके। वह इस बात पर ज्यादा ध्यान नहीं देता, लेकिन अपने पिता और दादी की फोन पर हो रही बातचीत सुन लेता है। बातचीत के दौरान वह अचानक दादी के मुंह से ऐसी बात सुनता है, जो उसे सहसा जागृत [अवेकन्ड] महसूस करा जाती है। उसे लगता है कि उसे ऐसा रास्ता मिल गया है, जिससे उसके माता – पिता अब सदा उसके साथ ही करेंगे। आख़िर क्या है वो तरीका?

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

फीलिंग्स टू टैल

_x000D_ _x000D_

यह एक फीचर फिक्शन फिल्म है, जिसे वेन ली ने बनाया है। एक युवा पेंटर जिआंग गहरी नींद में ताओगु  गांव में पहुंच जाता है, जहां वह एक मूक लड़की जिउअर और उसके पिता ओल्ड बाइ से मिलता है। इस सपने का जिआंग पर गहरा असर होता है। सपने में उसने देखा था कि इस पिता और पुत्री का जिआंगचु भगवान् में गहरा विश्वास है। फिल्म कई रोमांचक मोड़ों से गुज़रती है और आख़िर में जिआंग ताओगु गांव में पहुंच जाता है, जहां जिउअर और ओल्ड बाइ से फिर मिलता है। अब वह कई रहस्यात्मक बातों से मुखातिब होता है।

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

सन राइज़ेस फ्रॉम दा ईस्ट पोल

_x000D_ _x000D_

फिनिक्स डॉन्ग के निर्देशन में बनी यह फीचर फिक्शन फिल्म एक आम लड़की युएयान जू के बारे में है, जो शादी के ठीक एक दिन पहले गायब हो जाती है। उसका होने वाला पति एक सेलेब्रिटी है, जिससे हर लड़की शादी करना चाहती है। ऐसे में यह राज़ की बात है कि युएआन गायब क्यूं हो गई?

_x000D_ _x000D_

हालांकि शादी में आया यह मोड़ भी सुर्खियों में छा जाता है। वहीं सेलेब्रिटी जिउआन की मां को मालूम होता है कि शादी समारोह के कई दिन पहले ही दोनों कानूनन शादी कर चुके हैं। वह चाहती है कि दोनों का तलाक हो जाए, जिससे जिउआन की जायदाद सुरक्षित रहे। अब वह वकील को यह काम सौंपती है कि जिउआऩ और युएआन के रिश्ते की तह तक पहुंचा जाए।

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

मोज़ेक पोट्रेट

_x000D_ _x000D_

चीन की इस फीचर फिक्शन फिल्म को जाई यिक्सिएंग ने बनाया है। फिल्म माइग्रेंट वर्कर एक्सू की कहानी है, जिसे अचानक एक दिन अपनी 14 वर्षीय बेटी यिंग की प्रेगनेंसी के बारे में पता चलता है। वह यिंग के स्कूल और स्थानीय प्रशासन के ज़रिए पता लगाने की कोशिश करता है, लेकिन कहीं इंसाफ नहीं मिलता। यिंग अपने एक टीचर के खिलाफ आरोप भी लगाती है, लेकिन प्रशासन उसे बचा लेता है।

_x000D_ _x000D_

वही, दूसरी ओर यिंग मुश्किल भरे प्रेगनेंसी के समय से गुज़रती है। बच्चे के जन्म के बाद वह उस शहर को छोड़ कर चली जाती है, ताकि उसका अतीत उसे परेशान नहीं करे। लेकिन क्या उसे सुकून मिलेगा? या क्या वह अपने अन्दर की आवाज़ को कभी सुन पाएगी?


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें