महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री- शिक्षक अपने दायित्वों का पालन करते हुये भावी पीढी को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करे

जयपुर। महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ममता भूपेश ने कहा कि सभी शिक्षकों को  अपने दायित्वों का पालन करते हुए  भावी पीढी को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करनी चाहिए ।  राज्यमंत्री  शुक्रवार को दौसा पंचायत समिति के सभा भवन में आयोजित  राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील के जिला स्तरीय शैक्षिक अधिवेशन को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए बोल रही थी। उन्होने कहा कि  राज्य सरकार की कथनी व करनी में कोई अंतर नही है। चुनाव के दौरान सरकार ने जनता व सरकारी  कार्मिको से  प्रदेश के सम्पूर्ण विकास के जो वायदे किये थे उन्हे प्राथमिकता से पूरे करने का प्रयास कर रही है। सरकारी विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक अपने दायित्वों का पालन करते हुये आज की पीढी को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करे तथा परीक्षा परिणाम में अपना स्थान बनाने का प्रयास करे ताकि सरकारी विद्यालयों के प्रति आमजन आकृषित हो सके। उन्होने आगे कहा कि आज की पीढी कल के भारत का भविष्य है।सरकारी विद्यालयों में पढने वाले छात्र-छात्राओं में प्रतिभाओं की कमी नही है। ऎसी छिपी हुई प्रतिभाओं को तराश  कर बाहर लाने का काम शिक्षक आसानी से कर सकता है। शिक्षा के साथ साथ खेलों पर  भी ध्यान दे ताकि प्रतिभाओं को आगे आकर खेलने का अवसर मिल सके। भूपेश ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 जयन्ती के अवसर पर 2 से 9 अक्टूबर तक विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। गांधी जयन्ती सप्ताह के अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में मन व लग्न से पूर्ण सहयोग कर स्कूल के छात्र- छात्राओं व आमजन को महात्मा गांधी के जीवन के बारे में जानकारी दे तथा महात्मा गांधी के जीवन से प्रेरणा ले कर आगे बढने की प्रेरणा ले। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
 

Sangri Times News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें.

Related Articles