खेल नीति में बदलाव एवं खिलाड़ियों को प्रोत्साहन के ऐतिहासिक कदमों से प्रदेश में बदली खेलों की फिजा


Advt
जलदाय एवं भू—जल मंत्री डॉ. महेश जोशी ने कहा है कि वर्तमान सरकार ने मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की नेतृत्व में खेल नीति में बदलाव सहित खेल एवं खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए ऐतिहासिक कदम उठाए है। राज्य में बड़ी संख्या में खिलाड़ियों को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के आधार पर छोटे से बड़े पदों पर नियुक्ति दी जा रही है। खिलाड़ियों को सीधे आरपीएस अफसर भी बनाया जा रहा है। ऐसे फैसलों से प्रदेश में खेलों की फिजा बदली है और आज हर खेल में हमारे खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राज्य का नाम रोशन कर रहे हैं।

डॉ. जोशी शुक्रवार को एसएमएस स्टेडियम में राजस्थान रोड राइडर्स एसोसिएशन की ओर से आयोजित 73 वीं नेशनल साइकिलिंग चैंपियनशिप के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गत तीन सालों में खेलों को बढ़ावा देने और खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए जो कार्य किए गए है, उनकी जितनी भी तारीफ की जाए, वह कम होगी।

जलदाय एवं भू—जल मंत्री ने कहा कि प्रदेश में आयोजित होने जा रहे ग्रामीण खेलों से 27 लाख बच्चे जुड़ेंगे। इन खेलों के माध्यम से छिपी हुई प्रतिभाओं को निखारा जाएगा, उनको खेलों में अपना करिअर बनाने के अवसर मिलेंगे और वे प्रतिभाएं आने वाले समय में राजस्थान का नाम रोशन करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने तीन साल पहले एक होनहार युवा श्री अशोक चांदना को प्रदेश में खेल मंत्री की जिम्मेदारी सौंपी, इसके बाद से साईक्लिंग, फुटबाल, पोलो, क्रिकेट एवं शूटिंग सहित अन्य खेलों में खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने लगातार प्रदेश का मान बढ़ाया है। श्री चांदना स्वयं उत्कृष्ट खिलाड़ी और मन के सच्चे व्यक्ति है। ऐसे बेहतरीन खिलाड़ी को खेल मंत्री के रूप में पाकर खेल जगत अभिभूत है।

खेल एवं युवा मामले तथा सूचना एवं जनसम्पर्क राज्यमंत्री श्री अशोक चांदना ने कहा कि राज्य सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे अभिनव प्रयासों और उनको बेहतर प्रदर्शन करने के लिए दी जा रही सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। 

श्री चांदना ने प्रदेश के युवाओं में साइक्लिंग के प्रति रूचि बढ़ाने के लिए एक एकेडमी खोलने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार साइक्लिंग को बढ़ावा देने में सहयोग के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए जल्दी ही एक विशेष बैठक बुलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि मैं स्वयं एक खिलाड़ी हूं और खिलाड़ियों की भावनाओं को अच्छी तरह से समझता हूं। मैं उनके सहयोग के लिए हर समय तत्पर हूं।

श्री चांदना ने साइक्लिंग प्रतियोगिता की आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ. जीएल शर्मा और सचिव श्री बिजेन्द्र सिंह के साथ सभी साथियों को इस विशाल आयोजन की सफलता के लिए शुभकामनाएं एवं बधाई दी। 

सचिव श्री बिजेन्द्र सिंह ने बताया कि राजस्थान रोड राइडर्स एसोसिएशन की ओर से आयोजित यह प्रतियोगिता 28 दिसंबर तक चलेगी और इसमें देश भर के 600 से अधिक खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इससे पूर्व आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ. जीएल शर्मा ने प्रतिवेदन का पठन—पाठन किया। 

इस अवसर पर संबंधित अधिकारी एवं बड़ी संख्या में खिलाड़ी उपस्थित थे। 


Advt



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें