महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय जुड़ा युवा संसद के साथ



उदयपुर 28 नवम्बर / मेवाड़ अंचल में आयोजित होने वाले भारतीय युवा संसद के राष्ट्रीय अधिवेशन में महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर प्रमुख सहयोगी के रूप में जुड़ा हैं।

महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.एनएस राठौड़ के बताया कि मुख्य समन्वयक प्रो. आई वी त्रिवेदी के आमंत्रण को संस्थान ने स्वीकारा हैं, तथा यह आयोजन विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों हेतु अत्यंत उपयोगी होगी। विद्यार्थियों व रिसर्चर के लिए यह आयोजन  नीति निर्माताओं, विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों, प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशकों के अतिरिक्त पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं सीधा संवाद का जरिया होगा।

मीडिया फाउण्डेशन की ओर से  ‘‘लोकतंत्र और संवाद’’ विषय पर आयोजित की जाने वाली इस भारतीय युवा में जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ डीम्ड टू बी विश्वविद्यालय, गोविन्द गुरू जनजाति विवि  भी अकादमिक सहयोगी के रूप में जुड़े हैं। 

युवा संसद के इस राष्ट्रीय अधिवेशन में देश भर के विभिन्न राज्यों के युवाओं, विश्वविद्यालयों के स्नातकों सहित राजस्थान के सभी विश्वविद्यालयों के प्रतिभागी देश के नामचीन राजनेताओं, पत्रकारों, कुलपतियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं से रूबरू होंगे। 

आयोजन में  राजस्थान, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के अतिरिक्त नागालैंड के शिक्षामंत्री टेमज़ीन अमलांग, छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महन्त, राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी, तिब्बत की निर्वासित संसद के अध्यक्ष सोनम टेम्फेल, पूर्व केन्द्रीय मन्त्री प्रताप सारंगी, भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, बीजू जनता दल के राज्यसभा सांसद मुजीबुर्रहमान सहित अनेक गणमान्य व्यक्तित्व का आगमन प्रस्तावित हैं।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें