आश्रम के अखाड़े में उतरी अदिति पोहनकर

मुंबई: निर्देशक प्रकाश झा की बहुचर्चित श्रृंखला आश्रम का दूसरा अध्याय रिलीज के लिए तैयार हैं । आश्रम को सफल बनाने के लिए हर कलाकारो ने जी तोड़ मेहनत की साथ ही प्रकाश झा ने भी कोई कसर नही छोड़ी। इसी श्रृंखला की सबसे बड़ी कड़ी हैं पम्मी उर्फ अदिति पोहनकर। जो इसमें एक कुश्ती पहलवान बनकर अपने सपने को साकार करने के लिये बाबा के शरण मे आती हैं।

     वैसे फिल्म दंगल के फाइनल ले आउट में अदिति फिट तो नहीं हो पाई लेकिन निर्देशक प्रकाश झा ने अपने आश्रम के अखाड़े में इन्हे जगह दी। आपको बता दे की स्क्रीन पर अदिति की पहलवानी दमदार लगे इसीलिए प्रकाश झा ने विश्व प्रख्यात कुश्ती पहलवान और मशहूर शक्सियत संग्राम सिंह को चुना ।

      संग्राम सिंह के नेतृत्व में अदिति को मिला पहलवानी का सबसे बड़ा गुरु और शुरू हुई पम्मी की जद्दोजहद। कहानी के मुताबिक पम्मी को भारी दिखना था और अदिति का वजन सिर्फ 48 किलो ही था। अदिति कहती है " मैं सोच रही थी कि कैसे मेरा वजन बढेगा? मैं कैसे कर पाऊंगी?  क्योंकि मेरा वजन जल्दी नहीं बढ़ता इसीलिए वजन बढ़ाना मेरे लिए एक चुनौती था' । लेकिन मुझे लगा कि तकनीक सीखकर आप अच्छे से अच्छी दाव खेल सकते हो। एक-एक कुश्ती तो 24 मिनट तक चलती थी" ।

     संग्राम सिंह के बारे में अदिति कहती हैं कि " वो एक महान खिलाड़ी हैं। उन्होंने मुझे अपने आप पर विश्वास दिलाया और कहा कि तुम चिंता मत करो तुम कर सकती हो'। 

अदिति के बारे में संग्राम सिंह कहते हैं " वो कुश्ती सीखना चाहती थीं और उसने बहुत उम्दा प्रदर्शन किया। वो ऊर्जा से भरी थी और उसके हौसले बेहद बुलंद थे" । 



सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें