विपुल शाह की 'आंखें' की रिलीज को पूरे हुए 22 साल, यह 5 वजहें बनाती हैं इसे कल्ट क्लासिक

विपुल शाह ने फिल्म के लिए दो अलग-अलग एंडिंग्स शूट किए- एक में बच्चन के किरदार को लॉक कर दिया और दूसरे में वो आज़ाद थे। हालांकि, यह आइडिया फिल्म के लिए काफी अच्छा साबित हुआ।

Apr 6, 2024 - 13:36
Apr 6, 2024 - 13:37
 0
विपुल शाह की 'आंखें' की रिलीज को पूरे हुए 22 साल, यह 5 वजहें बनाती हैं इसे कल्ट क्लासिक
विपुल शाह की 'आंखें' की रिलीज को पूरे हुए 22 साल, यह 5 वजहें बनाती हैं इसे कल्ट क्लासिक
 
 विपुल शाह की कल्ट क्लासिक माने जाने वाली फिल्म 'आंखें' की रिलीज को आज आज 22 साल पूरे हो गए हैं। फिल्म 2 अप्रैल, 2002 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी, जिसमें अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, अर्जुन रामपाल, सुष्मिता सेन, परेश रावल और आदित्य पंचोली ने अहम भूमिका निभाई थी। यह फिल्म शाह के गुजराती नाटक 'अंधालो पाटो' पर आधारित। रिलीज के बाद फिल्म के हर तरफ से पॉजिटिव रिव्यू मिल रहा है। जिसका सबूत इसको बॉक्स ऑफिस पर मिली कामयाबी है। *यह 5 चीजें आंखें को बनाती हैं यादगार*: फिल्म के रिलीज के बाद, इसे क्रिटिक्स से बहुत अच्छे रिव्यूज मिले। कई लोगों ने इसे शार्प और दिलचस्प कहा, जबकी दर्शक भी इससे सहमत थे, जिसके कारण टिकट खिड़की पर बड़ी ओपनिंग देखने मिली थी। आंखें साल 2002 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों में से एक है। इतना ही नहीं फिल्म ने साउथ अफ्रीका में भी रिकॉर्ड बनाया, लिमिटेड रिलीज के बावजूद फिल्म ने वीकेंड पर कुल $14,600 को कमाई अपने नाम की थी। 'आंखें' ने पॉपुलर शैली बनने से पहले ही हिस्ट फिल्मों का कॉन्सेप्ट शुरू कर दिया था। यह फिल्म विजय सिंह राजपूत (बच्चन) के बारे में है, जो एक मेहनती बैंक कर्मचारी होते हैं, लेकिन बिना किसी वजह उसे निकाल दिए जाता है और फिर वह तीन अंधे लोगों की मदद से उसी बैंक को लूटने का फैसला करता है। एक बातचीत में, विपुल शाह ने खुलासा किया कि अफवाहें थी कि हॉलीवुड एक्टर रॉबर्ट डी नीरो की आंखें उनकी स्क्रिप्ट थीं। शाह ने कहा, "ऐसी अफवाहें थीं कि [एक्टर] रॉबर्ट डी नीरो स्क्रिप्ट में रुचि रखते थे, लेकिन किसी वजह से, फील नहीं हो पाई। किसी के लिए यह सुनना कि उनकी पहली फिल्म पर हॉलीवुड द्वारा विचार किया जा रहा है, एक बड़ा कॉम्प्लीमेंट है।" 'आंखें' का यह भी रिकॉर्ड है कि इसके लिए एक नहीं, बल्कि इसके एंडिंग के लिए दो अलग-अलग एक्सपेरिमेंट किया गया। विपुल शाह ने फिल्म के लिए दो अलग-अलग एंडिंग्स शूट किए- एक में बच्चन के किरदार को लॉक कर दिया और दूसरे में वो आज़ाद थे। हालांकि, यह आइडिया फिल्म के लिए काफी अच्छा साबित हुआ। आंखें विपुल अमृतलाल शाह का एक बेहतरीन क्रिएशन है, लेकिन उन्होंने हमेशा दर्शकों को शानदार फिल्में दी हैं। हाल ही में, उन्होंने आशिं ए. शाह के साथ मिलकर 'द केरला स्टोरी' बनाई और दर्शकों को एक दमदार कहानी दिखाई, इसने दर्शकों पर एक गहरा प्रभाव छोड़ा है, और यह 2023 की नौवीं सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हिंदी फिल्म है। प्रोड्यूसर के रूप में, उनकी हाल ही में रिलीज हुई 'बस्तर: द नक्सल स्टोरी' भी आशिं ए. शाह के साथ सहयोग से एक प्रभावशाली फिल्म बनाकर सामने आई है।