हिंदी फिल्म 'संत तुकाराम' से अभिनेता सुबोध भावे का फर्स्ट लुक आया सामने, निर्देशक आदित्य ओम ने महान संत की जीवनी का किया चित्रण

Mar 16, 2023 - 17:28
 0
हिंदी फिल्म 'संत तुकाराम' से अभिनेता सुबोध भावे का फर्स्ट लुक आया सामने, निर्देशक आदित्य ओम ने महान संत की जीवनी का किया चित्रण
हिंदी फिल्म 'संत तुकाराम' से अभिनेता सुबोध भावे का फर्स्ट लुक आया सामने, निर्देशक आदित्य ओम ने महान संत की जीवनी का किया चित्रण

बॉलीवुड में पिछले कुछ वर्षों में बायोपिक मूवीज़ का एक दौर चल रहा है। उसी कड़ी में अब महाराष्ट्र के महान संत तुकाराम पर एक बेहतरीन फ़िल्म जल्द देखने को मिलेगी।पुरस्कार विजेता फिल्म निर्देशक आदित्य ओम द्वारा निर्देशित फिल्म 'संत तुकाराममें मराठी संत की भूमिका मराठी सिनेमा के सुपरस्टार और बायोपिक किंग सुबोध भावे ने निभाई है।

बहुत जल्द आने वाली हिंदी फीचर फिल्म 'संत तुकारामसे अभिनेता सुबोध भावे का फर्स्ट लुक सामने आते ही चर्चा का विषय बन गया है। अपनी पहली हिंदी फीचर फ़िल्म में ऐतिहासिक भूमिका को लेकर अभिनेता काफी उत्साहित हैं। निर्देशक आदित्य ओमजो साउथ फिल्मों के भी जाने माने अभिनेता हैंका कहना है कि आधुनिक समय में संत तुकाराम पर फिल्म बनाना एक बड़ी चुनौती रही है। उन्हें इस बात का भी दुख है कि हिंदी सिनेमा ने इतने महान संत पर आजतक कोई उल्लेखनीय फिल्म नहीं बनाई। 

गौरतलब है कि इस फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है और यह पोस्ट प्रोडक्शन स्टेज में है। फिल्म में मुख्य अभिनेत्री शीना चौहान हैंसाथ ही शिशिर शर्मा, 'मास्साबफिल्म फेम शिवा सूर्यवंशीगौरी शंकर सिंहरूपाली जाधवहेमल धारियाराहुल सिंहयोगेश पंडितमनवीर चौधरीकिरण पाटिल भी महत्वपूर्ण भूमिकाओं में हैं जबकि संजय मिश्राअरुण गोविलललित तिवारीडीजे अकबर सामीहेमंत पांडेगणेश यादव और अन्य विशेष भूमिका में दिखाई देंगे।

निर्माता पी गौतम की यह फ़िल्म कर्जन फिल्म्स और पुरुषोत्तम स्टूडियोज के बैनर तले बनी है। फ़िल्म के संगीतकार रवि त्रिपाठीवीरल - लवननिखिल कामथ हैं

उल्लेखनीय है कि दुनियादारी की जिम्मेदारियों को अदा करते हुए एक साधारण व्यक्ति संत कैसे बनाइसी तरह की सच्ची घटनाओं से प्रेरित है फ़िल्म संत तुकाराम। अपने विचारोंअपने व्यवहार और अपनी बातचीत के नम्र ढंग से तुकाराम आम लोगों को हमेशा बेहतर जीवन गुजारने की प्रेरणा देते रहे। उनके आदर्शउनके सिद्धांत और उनके उपदेश इंसानों का सदैव मार्गदर्शन करते रहेंगे और फिल्मकार आदित्य ओम ने उस महान संत की जीवनी को बड़े पर्दे पर उतारने की एक बड़ी जिम्मेदारी को बखूबी अदा किया है। तो इन्तेजार रहेगाऐसे प्रेरणादायक सिनेमा काजो समाज और जन सामान्य पर अपना प्रभाव छोड़ेगा।